History of Computer in Hindi

By | August 9, 2018

History of Computer in Hindi PDF Download

 

A Human-built computer that has changed our way of working, living, playing, etc. It has somehow touched our aspect of life. It’s a computer this amazing invention. Over the past almost four decades, our society’s living conditions have changed the way we work. It started from wooden abacus and was converted to the latest microprocessor with high speed. 

Computer एक ऐसा मानव के द्वारा बनाया Machine जिसने हमारे काम करने , रहने, खेलने, इत्यादि सभी के तरीकों में परिवर्तन कर दिया है | इसने हमारे जीवन  पहलु को किसी न किसी तरह से छुआ है | यह अविश्वसनीय अविष्कार ही कंप्यूटर है | पिछले लगभग चार दशकों में हमारे समाज के रहन सहन, काम करने के तरीके को बदल डाला  है |  यह लकड़ी के अबैकस से शुरू होकर नवीनतम उच्च गति माइक्रोप्रोसेसर में परिवर्तित हो गया है | 

 

     History of Computer in Hindi  

       कंप्यूटर का इतिहास जानें

 
कंप्यूटर का इतिहास लगभग 3000 वर्ष पुराना है |
The History of computer is about 3000 years old.
 
 

1. अबैकस (Abacus ) :- 

प्राचीन समय में गणना करने के लिए अबैकस का उपयोग किया जाता था |  अबैकस एक यन्त्र है जिसका उपयोग आंकिक गणना ( Arithmatic Calculation ) के लिए किया जाता है | गणना तारों में पिरोये मोतियों के द्वारा किया जाता है | इसका अविष्कार चीन में हुआ था |

Abacus was used in ancient times to calculate. Abacus is an arithmatic calculation device. The calculation is performed by threaded pearls in wires. It Was Invented in China.

     

  

 2 . पास्कल  कैलकुलेटर ( Pascal Calculator ) : –  

प्रथम गणना मशीन का निर्माण सन 1645 में फ्रांस के गणितज्ञ ब्लेज पास्कल ने किया था | उस कैलकुलेटर  में Inter locking gears ) का उपयोग किया गया था ,  जो 0 से 9 संख्या को दर्शाता था | यह  जोड़ या  घटाव  करने में सक्षम था | इसलिए इसे  एडिंग मशीन  (Adding Machine ) भी कहा गया |

 
French mathematician Blaise Pascal built the first calculation machine in 1645. This calculator used interlocking gears, which showed numbers 0 to 9. It could be added or subtracted. That’s why Adding Machine was also called.
 
 
                                                                                                   
 
पास्कल 
 
 
 

                           





History of computer in hindi pdf


3. स्टोर्ड प्रोग्राम कॉन्सेप्ट : –   


इसके अनुसार प्रचालन निर्देश ( Operating Instructions )और आंकड़ा जिनका प्रोसेसिंग में उपयोग हो रहा है उसे कंप्यूटर में स्टोर्ड होना चाहिए  आवश्यकतानुसार प्रोग्राम के क्रियान्वयन के समय रूपांतरित होना चाहिए | एडजैक( EDSAC)  कंप्यूटर कैम्ब्रिज विश्व विद्यालय  किया गया था , जिसमे स्टोर्ड प्रोग्राम कॉन्सेप्ट समाहित था | यह कंप्यूटर में निर्देश  अनुक्रम को स्टोर्ड करने में सक्षम था और पहला कंप्यूटर प्रोग्राम के समतुल्य था | 


Accordingly, the operating instructions and the data used in the processing should be stored in the computer according to the need to be converted when the program is implemented. Cambridge World School produced the EDSAC computer, which contained the concept of the stored program. It was able to store the sequence in the computer and was equivalent to the first program of the computer.                                

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *